Atal Bhujal Yojana | अटल भुजल योजना

Spread the love

अटल भुजल योजना (Atal Bhujal Yojana) 25 दिसंबर 2019 को पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 95 वीं जयंती पर प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई एक भूजल योजना है। इस योजना का उद्देश्य भारत के 7 राज्यों में भूजल प्रबंधन का उत्थान करना है।

अटल भुजल योजना (Atal Bhujal Yojana) की विशेषताएं:

  • Atal Bhujal Yojana कार्यान्वयन की जिम्मेदारी जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री को दी जाती है जिसे अब जल शक्ति मंत्रालय के रूप में जाना जाता है।
  • योजना का आधा हिस्सा सरकार द्वारा वहन किया जाता है और योजना का आधा हिस्सा विश्व बैंक द्वारा ऋण के रूप में वित्तपोषित किया जा रहा है।
  • यह योजना मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, महाराष्ट्र और गुजरात में भी शुरू की जानी है।
  • यह योजना सरकार द्वारा योजना के अनुसार सामुदायिक भागीदारी को प्रोत्साहित करने में मदद करती है। यह निर्णय लिया गया है कि भूजल प्रबंधन लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए 50 प्रतिशत राशि ग्राम पंचायत और राज्यों को प्रोत्साहन के रूप में दी जाएगी।
  • केंद्रीय भूजल बोर्ड द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार, भूजल की कमी खतरनाक दर से हो रही है। इसे देखते हुए सरकार ने अटल भुजल योजना के क्रियान्वयन में तेजी लाई है।

अटल भुजल योजना (Atal Bhujal Yojana) के घटक:

  • राज्यों में सतत भूजल प्रबंधन के लिए संस्थागत व्यवस्थाओं को मजबूत करने के लिए संस्थागत सुदृढ़ीकरण और क्षमता निर्माण घटक जैसे निगरानी नेटवर्क में सुधार, क्षमता निर्माण, जल उपयोगकर्ता संघों को मजबूत करना आदि।
  • बेहतर भूजल प्रबंधन प्रथाओं में उपलब्धियों के लिए राज्यों को प्रोत्साहित करने के लिए प्रोत्साहन घटक, अर्थात् डेटा प्रसार, जल सुरक्षा योजना तैयार करना, चल रही योजनाओं के अभिसरण के माध्यम से प्रबंधन हस्तक्षेपों का कार्यान्वयन, मांग-पक्ष प्रबंधन प्रथाओं को अपनाना आदि।

अटल जल भुजल योजना (Atal Bhujal Yojana) का उद्देश्य:

  • इसका उद्देश्य सहभागी भूजल प्रबंधन के लिए संस्थागत ढांचे को मजबूत करना और स्थायी भूजल प्रबंधन के लिए सामुदायिक स्तर पर व्यवहार परिवर्तन लाना है।
  • स्थायी भूजल संसाधन प्रबंधन के लिए सामुदायिक स्तर पर व्यवहार परिवर्तन लाना।

व्याप्ति:

इस योजना का लक्ष्य गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तर प्रदेश जैसे 7 राज्यों में चिन्हित प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में सामुदायिक भागीदारी के माध्यम से भूजल प्रबंधन की प्रणाली में सुधार करना है। यह अनुमान लगाया गया है कि योजना के क्रियान्वयन से इन राज्यों के 78 जिलों की 8350 ग्राम पंचायतों को लाभ होगा।

समापन रेखा:

लॉन्च के वक्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कह रहे थे कि अटल जी के लिए पानी बहुत जरूरी है और उनके दिल के बेहद करीब है। पानी को लेकर उनके मजबूत विजन को अमल में लाने के लिए हमारी सरकार प्रयासरत है।

OFFICIAL WEBSITE: अटल भुजल योजना  (Atal Bhujal Yojana)


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Follow us